Motivational story .

जो लोग सोच बड़ी रखते हैं,उन्हें बड़ी कामयाबी जरूर मिलती है.

आपने बहुत सी motivation कहानी पढ़ी होगी, हर कहानी कुछ ना कुछ सीख जरूर देती है कहानियों ने हमेशा से व्यक्ति के जीवन पर बड़ा प्रभाव डाला है .इन से हमेशा कुछ ना कुछ सीखने को मिलता है ।

– राजा अपने मंत्री और कुछ सैनिकों के साथ शिकार पर निकला .राजा ,मंत्री और सैनिक जंगल के रास्ते शिकार की खोज में जा रहे थे .रास्ते में घनी झाडियां थी ,झाडियों मे फंस कर राजा का कुर्ता फट गया ,राजा के पास दूसरा कुर्ता भी नही था और उस कुर्ते को पहनना भी मुमकिन नहीं था .राजा मंत्री से बोला जाओ देखो आस-पास मे कोई गांव हो तो वह से दर्जी को बुला लाओ .
मंत्री अपने साथ कुछ सैनिकों के साथ चल दिया ,जंगल से बहार निकल कर उन्होंने आस – पास गांव की तलाश शुरू कर दी,कुछ समय मे गांव मिल गए ,गांव मे पहुंच कर उन्हें एक दर्जी मिल गया जो बेहद फटे हाल था .

मंत्री ने दर्जी को पूरी घटना के बारे मे बताया और साथ चल कर राजा का कुर्ता सही करने को कहा ।
दर्जी उन के साथ चल दिए, जंगल पहुंच कर उसने राजा का कुर्ता ध्यान से देखा फिर उसने सिलाई शुरू की कुछ ही देर मे उसने राजा का कुर्ता सिल दिया .कुर्ता देख कर राजा को आश्चर्य हुआ लग ही नही रहा था कि कुर्ता कही से फटा था .
राजा ने दर्जी से कहा बताओ तुम्हें इनाम में किया चाहिए, दर्जी ने सोचा घर मे अनाज नही है राजा से दो-चार अनाज की बोरी मांग लेता हूं लेकिन फिर दर्जी ने सोचा कुछ धागा और कुछ समय की मेहनत पर ये कही ज्यादा ना हो जाए .ऐसा ना हो राजा को गुस्सा आ जाए और वो उसको दंड ना दे दे .दर्जी ने राजा को मना कर दिया कि मुझे कुछ नही चाहिए राजा ने कहा कि नही तुमको तुम्हारा मेहनताना मिलना चाहिए इस पर दर्जी बोला आप को जो उचित लेगे आप ही दे दो .

इस बार राजा सोच मे पड़ गया कि इस दर्जी को इसकी मेहनता का किया इनाम दिया जाए कुछ समय सोचने के बाद राजा बोला ठीक है हम तुम को को दो गांव का जमीदार बना देते है ,दर्जी ने सोचा में तो केवल कुछ बोरी अनाज मांग रहा था इन्होंने तो मुझे दो गांव का जमीदार बना दिया .

सीख –हमेशा अपनी सोच ऊँची रखो ,छोटा लाभ -छोटी सोच इंंसान को कभी आगे नही बढ़ने देती ।

Leave a Reply