Nicholas Copernicus quotes , Nicholas Copernicus quotes in Hindi.

(1) Near the sun the center of the universe.

(सूर्य ब्रह्मांड का केंद्र है.)

(2)Finally we shall place the sun himself of the universe.

( अंत में हम सूर्य को ब्रहमांड के केंद्र में रख देगें)

(3)For it is the duty of an astronomer to compose the history of the celestial motions through careful and expert study.

(इसके लिए सावधानी और विशेषज्ञ अध्ययन के अभ्यास से खगोलीय गतियों के इतिहास की रचना करना खगोलशास्त्री का कर्तव्य है।.)

(4) those things which I am saying now may be obscure ,yet they will be made clearer in their proper place.

(वे चीजें जो मैं कह रहा हूं कि अस्पष्ट हो सकती हैं,फिर भी उन्हें उनके उचित स्थान पर स्पष्ट किया जाएगा .)

(5) I am aware that a philosopher’s ideas are not subject to the judgment of ordinary persons,because it is his endeavour to seek the truth in all things ,to the extent permitted to human reason by god.

( मुझे पता है कि एक दार्शनिक के विचार सामान्य व्यक्तियों के निर्णय के अधीन नहीं होतें , क्योंकि यह सभी.चीजों में सत्य की तलाश करने के लिए ,भगवान द्वारा मानव कारण के लिए अनुमत सीमा तक उसका प्रयास है.)

(6) for I am not so enamoured of my own opinions that I disregard what others may think of them.

( क्योंकि मैं स्वयं के विचारोंं से इतना प्रभावित नही हूं कि मैं इस बात की अवहेलना करता हूंं कि दूसरे उनके बारे में क्या सोच सकते हैं .)

(7) mathematics is written for mathematicians .

( गणितज्ञों के लिए गणित लिखा जाता है )

(8) there fore ,wher I considered this carefully, the contempt which I had to fear because of the novelty and apparent absurdity of my view,nearly induced me to a bandon utterly the work I had begun.

(इसलिए, जहां मैंने इस पर सावधानी से विचार किया ,वह अवमानना जो मुझे अपने दृष्टिकोण की नवीनता और स्पष्ट असमानता के कारण डरनी थी ,लगभग मुझे मेरे द्वारा शुरु किए गए काम को पूरी तरह से छोड़ने के लिए प्रेरित किया .)

(9) to know that we know what we know,and to know that we do not know what we do not know,is true knowledge.

(यह जानने के लिए कि हम जानते हैं कि हम क्या जानते हैन ,और यह जानने के लिए कि हम नहींं जानते कि जो हम नहींं जानते हैं,वह सत्य ज्ञान है.

(10) moreover,since the sun remains stationary,whatever appears as a motion of the sun is really due rather to the motion of the earth.

(इसके अलावा, चूंकि सूर्य स्थिर रहता है,जो कुछ भी सूर्य की गति के रुप में प्रकट होता है वह वास्तव में पृथ्वी की गति के कारण होता है .)

Leave a Reply