50 ब्रेकअप कोट्स .

 किसी को नीचा दिखाना मेरी फितरत में नही , और मुझे नीचा दिखा कर बच जाए ये उसकी किस्मत में नहीं .

एक बार जो मेरे दिल से उतर जाता है , वह मेरे सामने खड़ा रहे तब भी मुझे नजर नही आता .

गम की चादर हटाओ और जरा देखो, बाहर औरों के दर्द से तुम्हारा दर्द कम है.

चिंगारी को हवा देने की आदत नहीं है हमारी , हक की बात पर आग लगाने का दम रखते है .

जो कुछ भी तुमसे छीना जा सकता है , समझना तुम्हारा था ही नही .

जीवन के अच्छे दिनों में कभी भी उन लोगों को न भूलें जो बुरे दिनों में आपके साथ थे .

बिना कसूर के ही सजा मिलती है…जनाब तब..तकलीफ तो होगी ना .

तुम खास थे इसलिए लड़े तुमसे ,पराये होते तो मुस्कुरा कर जाने देते ….

मिलकर बिछड़ना ठीक नही लगता इसलिए मोहब्बत में दिल नही लगता .

दुनिया में कम ही लोग होते हैंं ..जो जैसे लगते है वैसे ही होते हैं…

नादान से दोस्ती कीजिए क्योंंकि मुसीबत के वक्त समझदार साथ नही देता .

जिंदगी बहुत खूबसूरत है, इसे बेकार की बातों और झगड़ो में बर्बाद मत करो…

किसी को परेशान देखकर अगर आपको तकलीफ होती है तो यकीन मानिए ‘  ईश्वर ने ‘ आपको इंसान बनाकर कोई गलती नहीं की है.

जीवन में पछतावा करना छोडो ..कुछ ऐसे करो कि लोग तुम्हें छोड़ देने पर पछताए….

जब आप बेपरवाह हो जाते हो तो दुनिया आपकी परवाह करने लगती है….

भरोसा हो तो चुप्पी भी समझ में आती है  अन्यथा शब्दों के गलत अर्थ निकालते हैं.

जब जब आइना देखो , अपना चेहरा नही किरदार देखो.

जब तक रास्ते समझ में आते है तब लौटने का वक्त हो जाता है.. कि यही जिंदगी है .

भूल नहीं पा रहा जब से तुझे लिखने लगा हूं मां ठीक कहती थी की लिखने से देर तक याद रहता है..

जुनून सा सवार था.. किसी के अंदर जिंदा रहने का जनाब नतीजा ये आया की हम अपने अंदर ही मर गये….

ठोकरे नहीं खओगे जनाब , तो कैसे जानोगे कि आप पत्थर के बने हो या शीशे के ..

मैने एहसास के धागे में पिरोया है तुझे टूट अगर हम गये तो बिखर तुम भी जाओगें ..

अगर किसी की इज्जत नही करना चाहते हैं तो मत कीजिए , लेकिन चार लोगों के साथ बैठ कर किसी की बेज्जती तो मत कीजिए ..

शायद : कोई ख्वाहिश रोती रहती है तभी मेरे अंदर बारिश होती रहती है ..

। 

डर सा लगता है अब रिश्तों से , लोग थोड़ा देकर सब कुछ ले जाते है .

बड़ी मुश्किल से सीखा है खुश रहना उसके बगैर , अब सुना है ये बात भी उसे परेशान करती है .

जिंदगी में अगर बुरा वक्त नहीं आता तो अपनों में छुपे हुए गैर और गैरों में छुपे हुए अपनों का कभी पता ना चलता ..

आप किसी से जितना ज्यादा अपनी भावनाओंं को छिपाओगे ,उस व्यक्ति के लिए उतना हीमुश्किल होगा आपको समझना ..

एक अजीब सी वेताबी है तेरे बिना रह भी लेते हैं और रहा भी नही जाता ..

जो लोग दूसरों की आंखो में आंशु लाते हैं , वो क़्यो भूल जाते है कु उनके पास भी दो आंखे हैं ..

सबसे ज्यादा गुस्सा उस वक्त आता है जब कोई खुद गलत होकर भी आपको गलत साबित करने की कोशिश करें..

सारे सबक.किताबों में नही मिलते यारों, कुछ सबक जिंदगी भी सिखाती है ..

मेरी जेब में जरा सा छेद क्या हो गया , सिक्कों से ज्यादा तो रिश्ते गिर गए ..

फिसलती ही चली गई एक पल रूकी भी नही , अब जा के महसूस हुआ रेत के जैसे है जिंदगी ..

किसी पर विश्वास ना करना और सब पर विश्वास करना दोनो में बराबर खतरा है ..

समय , हर समय को बदल देता है , बस समय को थोड़ा समय चाहिए ..

देखकर मेरी आंखे एक फकीर कहने लगा , पलके तुम्हारी नाजुक हैं ख्वाबोंं का वजन कम कीजिए ..

किसी की तारीफ करने के लिए जिगर चाहिए , बुराई तो बिना हुनर के किसी की भी की जा सकती है ..

समय जब नाच नचाता है तब सारे सगे सबंधी कोरियोग्राफर बन जाते हैं ..

जो बिना बोले सुन ले , सुना है वो दिल के बेहद करीब होते हैं, इस तरह के एहसास बड़े भाग्य से नसीब में होते हैं ..

ख्वाईशें रखोगे तो हकीकत ही सजा देगी , एक बार आगे बढ़ो तो सही , देखना मुश्किलें ही मजा देंगी ..

वो सब लौट आयेंगे , तुम एक बार कामयाब हो तो जाओ..

जो आपसे जलते हैं , उन्हें सफलता से मारो और मुस्कुराहट से दफना दो ..

कुछ तो है तुमसे मेरा रिश्ता ,वरना कोई गैर इतना याद नहीं आता …

हमेशा याद रखो , जो होता है , अच्छे के लिए होता है…

अगर कोई आपसे जलता है तो…. तो आपकी भी जिम्मेदारी बनती है कि उसे जला – जला कर कोयला कर दें ….

नाखून बढ़ने पर नाखून ही काटे जाते है उंगलियां नहीं..इसी तरह रिश्तों में दरार आये तो दरार को मिटाइये ..रिश्ते को नहींं ..

निभाने वाला आपकी हजार गलतियां भी माफ कर देता हैं , और छोड़ने वाला बिना गलती के भी छोड़ जाता है ..

उस जगह हमेशा खमोश रहा करो जहां दो कौडी के लोग अपना गुण गाते हो ..

सब से घटिया आदमी वो है जो पहले दोस्त बन के दिल के सारे भेद जान ले , और फिर दुश्मन बन के लोगों में मजाक बनाये ..

किसी की मजबूरियां पे ना हंसिये कोई मजबूरियां खरीद कर नही लाता – ( डरिये वक्त की मार से बुरा वक्त किसी को बता कर नही आता ) ..

Leave a Reply