असफलता के बहाने …

सफलता और असफलता व्यक्ति के जीवन के दो अहम पहलू हैं . व्यक्ति का सफल होना और असफल होना व्यक्ति की इच्छा शक्ति पर निर्भर करता है . व्यक्ति जैसा सोचता है उसका मस्तिष्क भी अपनी प्रतिक्रिया देता है . व्यक्ति का व्यवहार सफलता और असफलता में निर्णायक भूमिका निभाता है .

जैसा हम सोचते है ,वैसा ही हम बन जाते हैं . असफल व्यक्ति हमेशा ही अपनी कमी को अपनी शक्ति के रूप में दर्शता है . वह इस बात को स्वीकार ही नही करना चाहता कि ” मुझे ” जितना प्रयास करना चाहिए था मैने नही किया बल्कि वह यह दर्शाने की कोशिश में रहता है कि मैने अपनी क्षमता से अधिक प्रयास किया ,फिर भी सफलता मेरे हाथ नही लगी .

असफल व्यक्ति द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले ऐसे ही कुछ बहाने ,जिससे वह अपनी कमियों को छुपा कर वह इनको अपनी ताकत के रुप में दर्शाता है . कुछ मंदबुद्धि लोग भी उस की बात को सही ठहराते है तथा उनकी बर्बादी में सहयोग करते है . बताते हैं ऐसे ही बहाने ….

(1) पैसों का रोना रोते रहना –

जो व्यक्ति मेहनत ही नही करना चाहते, ऐसे व्यक्ति सबसे अधिक पैसोंं की कमी का रोना रोते रहते हैं . काबिलियत में पैसा ना होना कभी भी रुकावट पैदा नही करता है .  काबिलियत तो पैसा लेकर आती है ,कभी आपने सुना है पैसा काबिलियत लेकर आया हो . 
” यदि आप 18 साल तक गरीब है तो इसमें आपकी कोई गलती नही ,यदि आप 28 साल की उम्र में भी गरीब है तो निश्चय ही आपकी गलती है ” बिल गेट्स.

(2) काम में शर्म महसूस करना .

व्यक्ति का दूसरा सबसे बड़ा बहाना होता है  “मैं ” यह छोटा काम नही कर सकता हूं . ऐसे व्यक्ति अपने दोस्तों और रिस्तेदारों में अपनी इज्जत का बहाना बनाते हैं . इज्जत कभी भी कुछ ना करने वाले को कभी भी नहीं मिलती बल्कि इज्जत कुछ ना कुछ करने वाले लोगों को मिलती है .इस तरह की सोच असफलता का बहुत बड़ा कारण है जो व्यक्ति को दिन व दिन बेरोजगारी के दलदल में  फसता ही जाता है . बेरोजगार और हमेशा बहाने बनाने वाले व्यक्ति की कही भी इज्जत नही मिलती ना घर में ना ही बहार . 
” जोखिम हमेशा बड़ा लो, जीत गए तो कैप्टन और हार गए तो सलाहाकार..”

(3)बगैर काम के , बड़े काम की उम्मीद में रहना –

असफलता के बहाने बनाने वाला व्यक्ति हमेशा , खूद को छोड़कर सामने वाले हर इंसान को भ्र्म में रखता है . वह हमेशा बगैर काम किए ,सामने वाले व्यक्ति को अपनी झूठी बातों से इतना  प्रभावित कर देता जैसे कल ही नौकरी लगने वाली है या फिर किसी बड़े से शो रुम का  उद्घाटन होने वाला है . आपको अपने सपने पूरे करने के लिए बाते कम और मेहनत अधिक करनी होगी . दुनिया में  केवल मेहनत ही एक ऐसी चीज है जिसके बल पर आप अपने सपनों को पूरा कर सकते हो .
” संघर्ष रुलता जरुर है ,लेकिन अपने साथ सफलता और खुशियां लेकर आता है “

(4) परिवार को दोष देना –

असफलता के बहाने बनाने वाला व्यक्ति ,अपनी असफलता का दोष अपने परिवार को देता है . उसका मनना होता है कि माता – पिता को हमारे लिए मेहनत करनी चाहिए थी . लेकिन वो व्यक्ति ये  कभी नही सोचता कि जितना तुमको मिला है ,इतना भी कितनों को मिला है .
” कभी फुरसत में अपनी कमियों पर गौर करना ,दूसरों के आईने बनने की ख्वाहिश मिट जाएगी ” .

(5) सफलता की गांरटी –

अक्सर व्यक्ति कुछ भी करने से पहले ,उस काम की सफलता की गारंटी चाहते है जबकि गारंटी तो हमारे जीवन की भी नही है . लेकिन मन में एक विश्वास होता है . सच में देखा जाए तो हम सब एक विश्वास के साथ ही अपने जीवन को आगे बढ़ाते हैं . जिस व्यक्ति के अंदर विश्वास की कमी होगी उसको हर काम में कमियांं ही नजर आएगी .
” विश्वास कभी भी चमत्कार की इच्छा नही रखता लेकिन हर बार विश्वास के कारण चमत्कार हो जाते हैं .

Leave a Reply