नेपोलियन बोनापार्ट के 10 अनमोल विचार जो आपको ऊर्जा से भर देंगे .

नेपोलियन बोनापार्ट फ़्रांस का महान बादशाह था . कद काठी में छोटे नेपोलियन ने अपनी बहादुरी से दुनिया के बड़े हिस्से पर अपना राज कायम किया था. आज की तारीख में बहुत कम लोग है जो नेपोलियन की ऊंचाई तक पहुंचे .नेपोलियन के सैनिक उससे प्यार करते थे, तो दुश्मन उससे खौफ खाते थे . 

 आइए जानते हैं Nepoleon Bonaparte के 10 अनमोल विचारों के बारे में.      

         

महान नेपोलियन के 10 अनमोल विचार जो न केवल आपका मार्ग प्रसस्त करेंगे बल्कि आपको ऊर्जा से भर देंगे .

(1) अनजानी रांहो पर वीर ही आगे बढ़ा करते हैं ,कायर तो परिचित राह पर ही तलवार चमकाते हैं .

नेपोलियन महान के कहना का अर्थ है कि यादि हमें अपनी सफलता को सीमित ना करके इसकों आगे बढ़ाना है तो हमे अनजाने रास्तों पर आगे बढ़ना ही होगा . अनजाने रास्तों पर वही व्यक्ति चल सकता है जिसकी इच्छा शक्ति मजबूत हो .

(2) विजय हमेशा युद्ध का जीतना नहीं होती हैं….बल्कि विजय उसमे हैं जब आप हर बार गिर कर उठ जाते हैं .

किसी भी कार्य में हमेशा सफलता नहीं मिलती है ,लेकिन उस असफलता से डर कर बैठ जाने से अच्छा है कि आप उसे तब तक न छोड़े जब तक आपको उसमे सफलता प्राप्त नही हो जाती .

(3) सोच ,विचार करने में समय लगाएं , लेकिन जब काम का समय आए ,तो सोचना बंद करें और आगे बढ़े .

किसी भी कार्य को करने से पहले ,उस कार्य की सफलता असफलता की पूरी तरह से जानकारी कर ले . लेकिन जब आप उस कार्य को करने को लेकर निश्चय कर ही लिया है तो अब उसके बारे में और सोच कर समय बर्बाद न करे और उस काम को जल्दी ही कर ले .

(4) अगर आप चाहते हैं कि कोई चीज अच्छे से हो तो उसे खुद कीजिए .

हम अपने कार्य को किसी और व्यक्ति से कराएंगे तो निश्चित तौर पर उस में कुछ न कुछ कमी रहेगी . स्वयं से किया गया काम मन को संतुष्टि देता है .

(5) कल्पना ही दुनिया पर शासन करती है .

कल्पना के बगैर तो मानव जीवन ही व्यर्थ है . प्रत्येक व्यक्ति कल्पना के आधार पर ही अपने जीवन का निर्माण करना चाहता है . दुनिया की प्रगति का राज ही कल्पना है . इसलिए कल्पना कीजिए और उसे पूरी करने के लिए मेहनत .

(6) अवसर के बिना काबिलियत कुछ भी नहीं है .

इंसान चाहे कितना भी काबिल क़्यो ना हो ,जब तक उसे समान अवसर प्राप्त नहीं होंगे वह कुछ नही कर सकता . इसलिए हमेशा अवसरों की खोज में रहो . हर जगह अपनी काबिलियत दिखाने से कुछ भी फायदा नही है . काबिलियत हमेशा अवसर पर ही दिखानी चाहिए .

(7) असंभव शब्द सिर्फ बेवकूफों के शब्दकोष में ही पाया जाता है.

इस दुनिया में असंभव कुछ भी नही . जो कार्य आज से कुछ साल पहले असंभव लगते थे वे आज मामूली से जान पड़ते है और जो आज असंभव लग रहें हैं वे कुछ साल बाद संभव हो जाएंगे . इस शब्द को तो युवाओं को भूल जाना चाहिए .

(8) सच्चा ज्ञान ही दृढ़ संकल्प है .

किसी भी कार्य को करने से पहले उस कार्य की पूरी जानकारी कर लेनी चाहिए . किए जाने वाले कार्य के विषय में ज्ञान प्राप्त करना ही उस कार्य की सफलता का आधार है . अधूरा ज्ञान हमेशा बाधा उत्प्न्न करता है .

(9) कभी भी जब आपका दुश्मन कोई गलती कर रहा हो तो उसके काम में बाधा मत डालों .

कोई भी व्यक्ति जो आपका दुश्मन है और जो आपको हानि पहुंचाता है . यादि वह कोई गलती कर रहा है तो उसको समझा कर आप अपना ही नुकसान कर रहें हैं वे उस कार्य मेंं हुई गलती का भी जिम्मेदार आपको ही ठहराएगा . इसलिए ऐसे व्यक्ति की तरफ से आंखे मूद लेने में ही आपकी कुशलता है .

(10) एक सच्चा आदमी किसी से नफरत नही करता है .

सच्चा व्यक्ति अपने जीवन में किसी से नफरत नहीं करता है . जो काम आप प्यार से करा सकते हो वह काम नफरत से कफी नही होगा . जीवन मेंं सफलता और खुशी का एक मात्र साधन है किसी से नफरत न करना . नफरत न केवल आपके शत्रु पैदा करती है बल्कि आपकी सफलता में बाधा उत्पन्न करती है .

Nepoleon Bonaparte के विचारों को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें.

धन्यवाद।

इन्हें भी पढ़े –

Leave a Reply