20 मदर्स डे बेस्ट कोट्स हिंदी .

हम सभी जानते हैं मां के लिए अपने बच्चे ही सब कुछ होते है . मां अपने बच्चोंं की पहली दोस्त और पहली शिक्षिका होती है क्योंंकि वो वे सब कुछ जानती हैअपने बच्चोंं के बारे में जितना बच्चे खुद नही जानते अपने बारे में .मां वो हर चीज का खास  ध्यान रखती है जिसकी हमे जरूरत होती है . अब बच्चोंं का भी फर्ज बनता है कि वे भी अपनी मां को पूरी तरह से खुश रखें . वैसे तो हर पल अपनी मां का ध्यान रखना चाहिए .लेकिन फिर भी मां के धन्यवाद के लिए एक खास दिन निर्धारित किया गया है वो है हर साल के मई महीने का दूसरा रविवार , जिसे हम मदर्स डे  के रुप मे मनाते हैं .

                     मदर्स डे पर बेहतरीन कोट्स .

  • बच्चोंं को खिलाकर जब सुला देती है मां तब जाकर थोड़ा – सा सुकून पाती है मां, प्यार कहते हैं जिसे और ममता क्या चीज है कोई उन  बच्चो से पूछे जिनकी गुजर जाती है मां चाहे हम खुशियों में मां को भूल जाए ,तब भी मुसीबत सिर पर आती हैं तो याद आती है मां .
  • मां से रिश्ता कुछ ऐसा बनाया जिसको निगाहों में बिठाया जाए , रहें उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा कि अगर उदास हो तो मुस्कुराया हमसे भी ना जाए .
  • ये जो सख्त रास्तों पर आसान सफर लगता है ये मुझ को मां की दुआओं का असर लगता है , एक मुद्दत हुई मेरी मां नही सोई ताविश मैने एक बार कहा था के मुझे डर लगता है .
  • मां ना होगी तो वफा कौन करेगा ममता का हक भी कौन अदा करेगा , रब हर एक मां को सलामत रखना वरना हमारे लिए दुआ कौन करेगा .
  • हजारों फूल चाहिए एक माला बनाने के लिए ,हजारों दीपक चाहिए एक आरती सजाने के लिए, हजारों बूंद चाहिए समुद्र बनाने के लिए पर ” मां ” अकेली ही काफी है बच्चोंं की जिंदगी जन्नत बनाने के लिए .
  • मंजील दूर और सफर बहुत है  छोटी सी जिंदगी की फिकर बहुत है , मार डालती ये दुनिया कब की हमें लेकिन मेरी मां की दुआओं का असर बहुत है .
  • मां की एक दुआ जिंदगी बना देती है खुद रोएगी मगर तुम्हे हंसा देगी …कभी भूल के भी ना मां को रुलाना एक छोटी सी गलती पूरा अर्श हिला देगी .
  • कौन सी है वो चीज जो यहां नहीं मिलती सब कुछ मिल जाता है लेकिन मां नही मिलती …मां ऐसी होती है जो जिंदगी में फिर नही मिलती .
  • ऐ मेरे मालिक तूने गुल को गुलशन में जगह दी ,पानी को दरिया में जगह दी ,पंक्षियों को आसमान में जगह दी तू उस मां को जन्नत में जगह देना जिसने मुझे नौ महीने पेट में जगह दी .
  • आंख खोलू तो चेहरा मेरी मां का हो ,आंख बंद हो तो सपना मेरी मां का हो ,मैं मर भी जाऊ तो कोई गम नही बशर्ते कि कफन पर दुपट्टा मेरी मां का हो .

Leave a Reply