Plato Best Quotes ; प्लेटो के उच्च विचार .

Plato , प्लेटो यूनान के प्रसिद्ध दार्शनिक , गणितज्ञ और सुकरात के शिष्य और अरस्तु के गुरु थे . पश्चिमी जगत की दार्शनिक पृष्ठभूमि को तैयार करने में इन तीन दार्शनिको ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी . प्लेटो को अफलातून के नाम से भी जाना जाता है . पश्चिमी जगत में उच्च शिक्षा के लिए पहली  ” संस्था ” की स्थापना का श्रेय प्लेटो को ही जाता है .

आइए जानते है इस महान दार्शनिक के अनमोल विचारों को.

                     

                         

1 – ” लोकतंत्र तानाशाही में बदल जाता है . ” 

                                                                Plato . 

2 – ” अभ्यास ही सब कुछ है .” 

                                                             Plato .

3 – ” इस दुनिया में हर चीज एक खेल है . ” 

                                                             Plato .

4 – ” साहस ये जानना है कि किससे नहीं डरना है .” 

                                                              Plato. 

5 – ” चालाक , बुद्धिमत्ता की एक घटिया नकल है .” 

                                                              Plato.

6 – ” जो अच्छा सेवक नही है, वो अच्छा मालिक नहीं बन सकता . “

                                                             Plato .

7 – ” ईमानदारी अधिकतर बेईमानी से कम लाभदायक होती है ” .

                                                             Plato.

8 – ” मेरा मानना है कि आपका मौन सहमति है . ” 

                                                             Plato .

9 – ” अज्ञानता , सभी बुराईयों का मूल कारण है .” 

                                                             Plato.

10 – ” वह उचित है कि हर व्यक्ति को वह दिया जाए जिसके वे योग्य है .” 

                                                              Plato .

11 – ” इंसान की सबसे महत्वपूर्ण जीत , खुद पर काबू करना है .” 

                                                               Plato .

12 – ” इंसान का जीवन तीन चीजों से बना है . चाहत  , भावनाए और जानकारी .” 

                                                                 Plato. 

            

13 – ” कोई भी अच्छा निर्णय जानकारियों पर निर्भर करता है . ” 

                                                                 Plato. 

14 – ” जीवन की सबसे बड़ी दौलत , कम चीजों के साथ जिंदगी व्यतीत करना है .” 

                                                                 Plato.

15 –  ” काम की शुरुआत करना ही उसका सबसे महत्वपूर्ण भाग है .”

                                                                  Plato . 

16 – ” एक नायक सौ में एक पैदा होता है , एक बुद्धिमान व्यक्ति हजारों में एक पाया जाता है ,लेकिन एक सम्पूर्ण व्यक्ति शायद लाखों में भी ना मिले .” 

                                                                 Plato .

17 – ” कोई भी व्यक्ति किसी को भी आसानी से नुकसान पहुंचा सकता है , लेकिन हर व्यक्ति दूसरों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं कर सकता . ” 

                                                                  Plato.

18 – ” अगर इंसान शिक्षा की अपेक्षा करता है तो वह लंगडाते हुए अपने जीवन के अंत की तरफ बढ़ता है .” 

                                                                   Plato. 

19 – ” यदि उद्देश्य नेक ना हो तो ज्ञान बुराई बन जाता है .” 

                                                                 Plato. 

20 – ” बिना न्याय के ज्ञान को बुद्धिमानी नहीं चालाकी कहा जाना चाहिए .” 

                                                               Plato.

21 – ” अच्छे आदमी के साथ बुरा नहीं हो सकता , ना ही इस जीवन में ना मरने के बाद . ” 

                                                               Plato.

22  – ” केवल मृत लोगों ने युद्ध का अंत देखा है . ” 

                                                                Plato.  

23 – ” देश इंसानों की तरह होते हैं उनका विकास मानवीय चरित्र से होता है . ” 

                                                               Plato . 

24 – ” आदमी की पहचान इससे होती है कि वे अपनी शक्ति के साथ क्या करता है .” 

                                                               Plato. 

 25 – ” दुनिया तीन तरह के लोगों से बनी है  , ज्ञान के प्रेमी , सम्मान के प्रेमी और लाभ के प्रेमी .

                                                               Plato . 

                                               

Leave a Reply