Sardar Vallabh Bhi Patel Thoughts In Hindi; सरदार वल्लभ भाई पटेल के उच्च विचार .

लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल को देश की राष्ट्रीय एकता और अंखडता के लिए जाना जाता है सरदार पटेल के अमृत तुल्य विचार आज भी लाखों लोगों को प्रेरित करते हैं .उनके विचारों को अपना कर युवा अपना जीवन बदल सकता है .

आइए जानते हैं सरदार पटेल के अनमोल विचारों के बारे में .

  

                

1 – ” जब जनता एक हो जाती है , तब उसके सामने क्रूर से क्रूर शासक और शासन टिक नही सकता . अत: जात – पात और ऊंच – नीच के भेद को भुलाकर सब एक हो जाओ .” 

                                                                    सरदार पटेल.

2 – ” अपमान सहना एक कला है यह आपको आनी चाहिए .”

                                                                    सरदार पटेल.

3 – ” भारत एक अच्छा अन्न उत्पादक देश हो और कोई भी अन्न के लिए भूखा ना रहे , यही मेरी इच्छा है .” 

                                                                  सरदार पटेल .

4 – ” इस मिट्टी में कुछ तो अनूठा है तभी तो कई बाधाओं के बावजूद हमेशा महान आत्माओं का निवास रहा है .” 

                                                                  सरदार पटेल.

5 – ” आपकी अच्छाई आपके मार्ग में बाधक है , इसलिए अपनी आंखों को क्रोध से लाल होने दीजिये ,और अन्याय का सामना मजबूत हाथों से कीजिये .” 

                                                                 सरदार पटेल .

6 – ” हिन्दू राष्ट्र की चर्चा एक पागल पन है .” 

                                                                  सरदार पटेल .

7 – ” मनुष्य को ठंडा रहना चाहिए, क्रोध नहीं करना चाहिए , लोह भले ही गर्म हो हथौडे को तो ठंडा ही रहना होगा .” 

                                                                  सरदार पटेल.

8 – ” शक्ति के अभाव में विश्वास व्यर्थ है . विश्वास और शक्ति दोनों ही महान कार्य करने के लिए आवश्यक है .” 

                                                                सरदार पटेल .

9 – ” अधिकार मनुष्य को तब तक अंधा बनाये रखेंगे , जब तक मनुष्य उस अधिकार को प्राप्त करने का मूल्य न चुका दे .” 

                                                                   सरदार पटेल.

10 – ”  संस्कृति समझ – बूझकर शांति पर रची गई है . मरना होगा तो वे अपने पापों से मरेंगे , जो काम प्रेम ,शांति से होता है वह वैर – भाव से नहीं होता .” 

                                                                  सरदार पटेल .

लौह पुरुष सरदार पटेल के यह अनमोल चुनिंदा विचार काफी  रिसर्च के बाद लिखे गए हैं , अगर आपको अच्छे लगे हो तो अपने दोस्तों को शेयर करें तथा आपके पास कोई जानकारी हो तो हमें बताए हम उसको इसमे जोड़ देंगे .

Leave a Reply