Socrates Best Quotes; सुकरत के उच्च विचार .

सच्चा ज्ञान संभव है बशर्ते उसके लिए ठीक तौर पर प्रयत्न किया जाए ; जो बातें हमारी समझ हमारी समझ में आती हैं या हमारे सामने आई हैं , उन्हें तत्सबन्धी घटनाओं पर हम परखें , इस तरह अनेक परखों के बाद हम एक सच्चाई पर पहुँच जाते हैं . ज्ञान के समान पवित्रतम कोई वस्तु नही है . 

 “ये पंक्ति महान दार्शनिक सुकरत द्वारा कही गई हैं , सुकरात इतिहास के महानतम दार्शनिकों मेंं से एक है , “

आइए जानते हैं महान दार्शनिक सुकरात के महान विचार .

1 – ” अपना जीवन आलस्य में बिताना आत्महत्या करना है .” 

                                                               सुकरात .

2 – ” अगर सम्मान पाना चाहते हो , तो दूसरों के साथ वही व्यवहार करे जैसा बनने का आप दिखावा करते हैं .” 

                                                              सुकरात .

3 – ” जिंदगी नहीं बल्कि एक अच्छी जिंदगी मायने रखती है . ” 

                                                             सुकरात .

4 – ” एक ईमानदार व्यक्ति हमेशा ही एक बच्चे की तरह होता है . ” 

                                                              सुकरात .

5 – ” सभी लोगों की आत्मा अमर है , लेकिन जो व्यक्ति नेक होते हैं उनकी आत्मा दिव्य और अमर होती है .” 

                                                              सुकरात .

6 – ” आप शादी करो या  ब्रह्मचारी रहो , दोनों को बाद में पछताना ही पड़ता है . “

                                                             सुकरात .

7 – ” बहुत अधिक इच्छाएं रखने का मतलब है आपके अंदर बहुत अधिक नफरत का पैदा होना .” 

                                                            सुकरात .

8 – ” अपना किमती समय लोगों की किताबें पढ़ने में लगाये , इससे आपको वह जानने में आसानी होगी जो वह लोग बड़ी मुश्किल से जान सके .” 

                                                            सुकरत .

9 – ” मैं किसी को कुछ नहीं सीखा सकता हूँ लेकिन मैं उन्हें सोचने पर मजबूर कर सकता हूँ .” 

                                                            सुकरात .

10 – ” जहां तक मेरा सवाल है , मैं बस इतना जानता हूँ कि मैं कुछ नही जानता . “

                                                          सुकरात .

         महान दार्शनिक सुकरात के महान विचार –

11 – ” हमारी प्रार्थना बस सामान्य रूप से आशीर्वाद के लिए होनी चाहिए , क्योंंकि भगवान जानते हैं कि हमारे लिए क्या अच्छा है .” 

                                                           सुकरात .

12 – ” झूठे शब्द ना केवल बुरे होते है , बल्कि वे आपकी आत्मा तक को गंदा कर देते हैं .” 

                                                           सुकरात .

13 – ” इस दुनिया में सम्मान से जीने का सबसे महान तरीका है कि हम वो बने जो हम होने का दिखावा करते हैं .” 

                                                           सुकरात .

14 – ” मित्रता सबसे मत कीजिए लेकिन जब भी जिस से कीजिए उसके साथ मजबूती से अंत तक साथ रहिए .” 

                                                          सुकरात .

15 – ” मृत्यु संभवत: मानवीय वरदानों में सबसे महान है .” 

                                                          सुकरात .

16 – ” जो भी शादी कीजिए अगर आपकी पत्नी अच्छी हुई तो आपको खुशियां मिलेंगी और यदि आपकी पत्नी अच्छी ना हुई तो आप दार्शनिक बन जाओगे .” 

                                                         सुकरात .

17 – ” सिर्फ जियो मत ….बल्कि सच्चाई के साथ  जिओ .

                                                         सुकरात .

18 – ” मजबूत बुद्धि के व्यक्ति विचारों पर , साधारण बुद्धि के व्यक्ति घटनाओं पर और छोटी बुद्धि वाले लोगों पर बाते करते हैं .

                                                         सुकरात .

19 – ” किसी प्रश्न को समझने का मतलब है आप आधा उत्तर जानते हैं .” 

                                                        सुकरात .

20 – ” जहां हद से अधिक प्यार होता है उसका अंत बहुत ही ठंडा होता है . ” .   

                                                       सुकरात .

Leave a Reply