स्वेट मर्डेन के अनमोल विचार ; Sweet Marden Thoughts & Quotes in Hindi.

महान लेखक स्वेट मर्डेन , इनके  द्वारा लिखी गई पुस्तकों का अधिकतर विषय ज्ञान और प्रेरणा से संबंधित होते है . स्वेट मर्डेन की पुस्तकों ने हमेशा ही लोगों कि उचित मार्गदर्शन किया है . 

आइए जानते हैं स्वेट मर्डेन के लिखे गए प्रेरणादायक अनमोल विचारों के बारे में .

                   

         

1- ” यदि कष्ट को हँसते हँसते सहन किया जाये तो वह भी खुशी में बदल जाते हैं .”

                                                                 स्वेट मर्डेन .

2- ” इस दुनिया में किसी भी व्यक्ति का स्वभाव प्राकृतिक रूप से ऐसा नही है जिसे पूर्ण कहा जा सके .”

                                                                  स्वेट मर्डेन .

3 – ” क्रोध ,अंहकार , घृणा ऐसे भाव है जो मनुष्य की सोचने समझने की शक्ति समाप्त कर देते हैं और वह खुद अपना विनाश कर लेता है . इससे बचने के लिए मनुष्य को आत्मचिंतन का सहारा लेना चाहिए .” 

                                                                स्वेट मर्डेन .

4 – ” आत्मविश्वास से भरपूर व्यक्ति को सफलता प्राप्त करने से कोई नही रोक सकता है .”

                                                                 स्वेट मर्डेन .

5 – ” जीवन में चाहे कितने भी दु:ख के दिन क़्यो ना आए सबकी अपनी सीमा होती है और फिर नई आशा की किरन चमकने लगती है .” 

                                                                  स्वेट मर्डेन .

6 – ” दूसरों केधर्म को अपमानित करके अपने धर्म का सम्मान करने वाला , सम्मान का हकदार नहीं रहता  .” 

                                                                स्वेट मर्डेन .

7 – ” अपने मतलब के लिए तौ शैतान भी धर्म ग्रंथ का हवाला दे सकता है .” 

                                                                 स्वेट मर्डेन .

8 – ” स्वभाव कच्ची मिट्टी की तरह होता है , जिसकी कोई शक्ल सूरत नहीं होती . इसे अपने अनुसार ढालने की आवश्यकता होती है .”

                                                                  स्वेट मर्डेन .

9 – ” निरपराधी को परेशान करने जैसा जघन्य अपराध दूसरा कोई नहीं है .” 

                                                                  स्वेट मर्डेन .

10 – ” न्याय संगत बात करने के लिए हर समय सही होता है .”

                                                                  स्वेट मर्डेन .

11 – ” दु:ख बाँटने से हल्का हो जाता है और सुख बाँटने से बढ़ता है .” 

                                                                  स्वेट मर्डेन .

12 – ” क्रोध , अंहकार देवता को भी दानव बना देते हैं और नम्रता और प्रेम मानव को भी देवता बना देते है.” 

                                                                 स्वेट मर्डेन .

13 – ” भगवान भी उनकी मदद करते हैंं जो खुद अपनी मदद को तैयार रहते है .”

                                                                  स्वेट मर्डेन .

14 – ” जिनमे नम्रता नहीं है वे शिक्षा का सदुपयोग नहीं कर सकते है .” 

                                                                  स्वेट मर्डेन .

15 – ” सच्चे मित्र का सम्मान करे ,पीठ पीछे प्रशंसा करे और जरुरत पड़ने पर उसकी सहायता करे .” 

                                                                 स्वेट मर्डेन .

16 – ” ज्ञानवान मित्र ही जीवन का अनमोल धन है .”

                                                                  स्वेट मर्डेन .

17 – ” प्रशंसा की ठंडी आग पर पत्थर भी पिघल जाते हैं .” 

                                                                  स्वेट मर्डेन .

18 – ” जितना हमे अपनी बात कहने का अधिकार है , दूसरों को भी अपनी बात कहने का उतना ही अधिकार है .” 

                                                                  स्वेट मर्डेन .

19 – ” भलाई के अलावा भविष्य में सभी चीजें नष्ट हो जाती है .”

                                                                  स्वेट मर्डेन .

20 – ” चरित्र कोई ऐसी वस्तु नहीं है जिसे आप ऐसे ही प्राप्त कर सकते है और सफलता कोई ऐसा फल नही है जो पेड़ पर लगता हो .” 

                                                                 स्वेट मर्डेन .

Swett Marden के यह चुनिंदा Thought आपको कैसे लगे हमे जरूर बताएं साथ ही अगर पसंद आए हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे .

Leave a Reply