सफल जीवन के लिए ओशो के अनमोल उच्च विचार .

जीवन का मिलना प्रकृति का सबसे बड़ा और अनमोल उपहार है . इस उपहार को संभाल कर रखना और जनसेवा में उपयोग करना ही सफल जीवन का आधार है . जीवन तब ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता जब इसको प्रेम के साथ व्यतीत किया जाए . प्रेम के साथ विताया गया हर दिन ,हर पल महत्वपूर्ण है . ओशो ने अपने महान विचारों में मानव प्रेम में बिताया गया जीवन को ही भगवान की इच्छा बताया है . 

आइए जानते हैं ओशो के महान अनमोल विचार .

          

                  

1 – ” संसार सुंदर है क्योंंकि इसे भगवान ने बनाया है . जो संसार को गंदा करता है वह भगवान का तिरस्कार करता है .”

                                                                            Osho.

2 – ” जीवन में आप जो करना चाहते हैं अवश्य करें , ये मत सोचो कि लोग क्या कहेंगे . क्योंंकि लोग तो तब भी कुछ न कुछ कहते हैं जब आप कुछ नहीं करते हैं .”

                                                                          Osho.

3 – ” मैं किसी से बेहतर करु , आपकी अपनी इच्छा है . मैं किसी का बेहतर करु भगवान की आपसे इच्छा है .”

                                                                           Osho.

4 – ” जब आप हंस रहे होते हैं  तो आप ईश्वर की भक्ति कर रहें होते हैं . और जब किसी को हंसा रहें होते हैं तो ईश्वर आपकी भक्ति कर रहा होता है .”

                                                                           Osho.

5 – ” दर्द से बचने के लिए, वे सुख से बचते हैं. मृत्यु से बचने के लिए, वे जीवन से बचते हैं .” 

                                                                         Osho.

6 – ” प्यार एक आजाद पंक्षी की तरह है जिसे उड़ने के लिए पुरे आकाश की जरुरत पड़ती है .”

                                                                         Osho.

7 – ” यदि आप सम्पूर्ण हैं तो आप कभी सफलता प्राप्त नही कर सकते, सफलता तभी संभव है जब आप अपूर्ण हो .”

                                                                           Osho.

8 – ” जो तुम सोचते ,समझते हो तुम वही बन जाते हो . यह तुम्हारी जिम्मेदारी है .”

                                                                         Osho.

9 – ” प्रेम तब खुश होता है जब वो कुछ दे पाता है . अंहकार तब खुश होता है जब वो कुछ ले जाता है .”

                                                                        Osho.

10 – ” कितना सीखा जा सकता है सवाल ये नहीं है ….कितना भुलाया जा सकता है , सवाल ये है .”

                                                                          Osho.

11 – ” सत्य कुछ बाहरी नही है जिसे तुम खोज रहें हो , ये कुछ अंदरुनी है इसका एहसास करो .”

                                                                           Osho.

12 – ” अपनी जिंदगी एक राजा की तरह जिये . “

                                                                           Osho.

13 – ” मूर्ख हमेशा दूसरों परहँसते है , बुद्धिमान खुद पर .”

                                                                           Osho .

14 – ” यहां कोई आपका सपना पूरा करने के लिए नही है यह सब अपना सपना पूरा करने में लगे हैं .”

                                                                            Osho.

15 – ” यदि आप खुद अपनी संगत का आनंद नही लेते हो , तो फिर कोई और आपसे आनंदित कैसे हो सकता है . “

                                                                            Osho.

16 – ” अगर आप सच को देखना चाहते हैं तो अपनी राय न सहमती में रखे ना ही असहमति में .”

                                                                           Osho.

17 – ” जीवन ठहराव और गति के बीच का संतुलन है .”

                                                                          Osho. 

18 – ” व्यक्ति के शोषण की अहम वजह डर है .”

                                                                          Osho.

19 -” अगर आप खुश नहीं है तो जीवन का कोई महत्व नहीं है .”

                                                                         Osho.

20- ” उस रास्ते पर मत चलो जो तुम्हारे डर और भय का प्रतीक हो , बल्कि उस रास्ते पर चलो जो तुम्हारे प्रेम और खुशी का प्रतीक हो .”

                                                                         Osho.

इन्हें भी पढ़े –

Osho के ये महत्वपूर्ण विचार आपको कैसे लगे हमे कमेंट करके जरुर बताए . ओशो से जुडी किसी बात को हमे बताना चाहते है तो जरुर लिखे . 

Leave a Reply