Mark Twain Thoughts ; मार्क ट्वेन के विचार.

Mark Twain एक ऐसे महान लेखक ,जिन्हें उनकी लेखनी और विचारों के आधार पर अमेरिकी साहित्य का पिता कहां जाता है . Mark Twain ने युवाओं को बताए कि जीवन उसी तरह जीये जैसा कि वे जीना चाहते हैं . 

आईए जानते हैं साहित्य पर 28 पुस्तकों की रचना करने वाले महान साहित्यकार Mark Twain के विचारों के बारे में .

             

                  

1 – ” हमेशा सही करें , ये कुछ लोगों को तो सन्तुष्ट करेगा पर  बाकियोंं को  आश्चर्यचकित .”

                                                              Mark Twain.

2 – ” मेल – जोल नफरत पैदा करती है – और बच्चे भी .”

                                                              Mark Twain.

3 – ”  हंसना मानव जाति के लिए सबसे बड़ा आशीर्वाद है .”

                                                              Mark Twain.

4 – ” आम तौर पे मुझे बिना तैयारी के दिए जाने वाले भाषण को तैयार करने में तीन सप्ताह का समय लगता है .”

                                                              Mark Twain.

5 – ” जिंदगी कही अधिक खुशहाल होती यदि हम 80 साल के पैदा होते और धीरे – धीरे 18 की तरफ आते .”

                                                              Mark Twain.

6 – ” सदा देश के प्रति वफादार रहो , सरकार के प्रति जब तब वो इसके लायक हो .” 

                                                              Mark Twain.

7 – ” यदि आप सच बोलते हैं, तो फिर आपको कुछ भी याद रखने की आवश्यकता नही है .”

                                                              Mark Twain.

8 – ” गुस्सा एक ऐसा तेजाब है जो जिस चीज पर डाला जाता है , उससे अधिक वह उस चीज को हानि पहुंचाता है जिसमे उसको रखा गया है .”

                                                              Mark Twain.

9 – ” बोलकर सारा संदेह खत्म कर देने से बेहतर है चुप रह कर बेवकूफ साबित हो जाना .”

                                                             Mark Twain.

10 – ” मैं एक बुजुर्ग हूँ और मैंने कई परेशानियों को समझा है , पर उनमे से अधिकतर कभी आई ही नही .”

                                                              Mark Twain.

11 – ” मैं एक अच्छी तारीफ पर दो महीने अच्छे से बीता सकता हूँ .”

                                                             Mark Twain .

12 – ” दयालुता वो भाषा है जिसे  बहरे सुन सकते है और अंधे देख सकते हैं .”

                                                              Mark Twain.

13 – ” मानव ही एक ऐसा जीव है जो शर्मिंदा होता है या जिसे इसकी  आवश्यकता होती है .”

                                                              Mark Twain.

14 – “धन नहीं …. धन की कमी सभी समस्याओं का मूल कारण है .”

                                                             Mark Twain .

15 – ” क्लासिक , एक ऐसी पुस्तक है जिसकी सब लोग प्रशंसा तो करते हैं पर पढ़ना कोई नही चाहता .”

                                                              Mark Twain.

16 – ” इंसान एक ऐसा प्राणी है जो हफ्ते के आखिर में बनाया गया , जब भगवान थके थे . “

                                                              Mark Twain.

17 – ” खुद को खुश करने का सबसे बेहतर तरीका है किसी और को खुश करने का प्रयास करना . “

                                                              Mark Twain.

18 – ” चीजों पर जितनी अधिक  पाबंदी लगाई जाती है वो उससे कहीं अधिक लोकप्रिय हो जाती है .”

                                                             Mark Twain .

19 – ” सम्मान गृहण करने से इंकार करना ; और अधिक शोर गुल के साथ सम्मान गृहण करने का उपाय है .”

                                                             Mark Twain .

20 – ” जब आप स्वयं को बहुमत के नजदीक पाएं तो समझ जाइये कि अब ठहर कर सोचने का समय है .”

                                                             Mark Twain .

हम उम्मीद करते हैं कि अमेरिकी साहित्य के पिता कहें जाने वाले महान साहित्यकार Mark Twain के कहें गए विचार आपको जरुर पसंद आएं होंगे , आप इनको अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते हैं .

धन्यवाद .

Leave a Reply