Markandey Katju Thought ; मार्कंडेय काटजू के कथन .

 Markandey Katju , जब सुप्रीम कोर्ट के जज थे तब वह अपने फैसलों के लिए जाने जाते थे . और जब रिटायर हो गए, तो अपने बयानों के लिए जाने जाते हैं . Markandey Katju के बयानों पर लोगों की मिली जुली प्रतिकिया होती है . कुछ लोग उनके बयानों की सरहाना करते हैं तो कुछ आलोचना . लेकिन इन सब के बावजूद Markandey Katju के बयान हमेशा ही लोगों का ध्यान अपनी तरफ खीचते हैंं 

आईए जानते हैं Markandey Katju के 10 चुनिंदा बयानों के बारे में .

1 – ”  भ्रष्ट लोगों को लैम्प पोस्ट पर लटका देना चाहिए.”

Markandey Katju.

2 – ” मैंने सुना है कि लालू के राज में फ्रीडम ऑफ प्रेस होती थी , लेकिन अब बिहार में फ्रीडम ऑफ प्रेस नहीं है .”

Markandey Katju.

3 – ” अमरीकी पोर्न स्टार ( सनी लियोनी ) के अतीत के लिए उनकी निंदा नहीं करनी चाहिए.”

Markandey Katju.

4 – ” 90 % भारतीय बेवकूफ होते है जो धर्म के नाम पर आसानी से बहकावे में आ जाते हैं .”

Markandey Katju.

5 – ” क्रिकेटरोंं और फ़िल्मी सितारों को भारत रत्न देना इस सम्मान का मजाक उड़ाने जैसा है , क्योंंकि इन लोगों का कोई  ” सामाजिक सरोकार ” नहीं होता .”

Markandey Katju.

6 – ” सलमान रुश्दी एक औसत दर्जे के लेखक हैंं .”

Markandey Katju.

7 – ” साल 2002 में गोधरा में जो कुछ भी हुआ वह आज भी राज है .”

Markandey Katju.

8 – ” क्रिश्चन स्कूलों में मुस्लिम स्टूडेंट को दाढ़ी रखने का कोई हक नहीं है .ऐसा करना देश का तालीबानीकरण करने जैसा है .”

Markandey Katju.

9 – ” मैं कभी वोट नहीं देता . ( क्योंंकि मैं सभी भारतीय राजनेताओं को लफंगा और धूर्त समझता हूँ .) “

Markandey Katju.

10 – ” उल्फा जैसे संगठनों की सदस्यता जुर्म नहीं .”

Markandey Katju.

इन्हें भी पढ़े –

Markandey Katju के कथनों को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें .

धन्यवाद .

Leave a Reply